Sharjeel imam: 2020 के दिल्ली दंगों के मामले में शरजील इमाम को दिल्ली हाई कोर्ट से बैल मिल गई?

Prosecutors के अनुसार, शरजील इमाम ने कथित तौर पर दिसंबर 2019 में जामिया मिलिया इस्लामिया और अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में भाषण दिया था, जहां उन्होंने असम और शेष उत्तर पूर्व को देश से काटने की धमकी दी थी। उन पर देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया और बाद में उनके खिलाफ यूएपीए की धारा 13 लगा दी गई। इमाम 28 जनवरी, 2020 से हिरासत में हैं।’

2020 के सांप्रदायिक दंगों से जुड़े एक मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने जेएनयू स्कॉलर शरजील इमाम को जमानत दे दी है। उनके खिलाफ आरोपों में देशद्रोह और गैरकानूनी गतिविधियां शामिल थीं। न्यायमूर्ति सुरेश कुमार कैत और न्यायमूर्ति मनोज जैन की पीठ ने जमानत मंजूर कर ली। शरजील इमाम को दिल्ली के जामिया इलाके और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में दंगों के दौरान भड़काऊ भाषण देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

हालाँकि, शरजील इमाम जेल में ही रहेगा क्योंकि वह 2020 के दिल्ली दंगों के संबंध में बड़ी साजिश के मामले में भी आरोपी है।

Who is Sharjeel imam:-

शरजील का जन्म बिहार के जहानाबाद जिले के काको में रसूखदार मुस्ल‍िम परिवार में हुआ था। उनके पिता अकबर इमाम जनता दल यूनाइटेड के नेता रहे हैं। शरजील की शुरुआती पढ़ाई पटना के सेंट जेवियर हाईस्कूल से हुई, जहां दसवीं तक की शिक्षा पूरी हुई। दसवीं में अच्छे नंबर आने के बाद 11वीं और 12वीं क्लास के लिए दिल्ली पब्ल‍िक स्कूल वसंतकुंज में एडमिशन कराया गया। शरजील इमा00म ने आईआईटी बॉम्बे से बीटेक और एमटेक किया है, जबकि 2013 में जेएनयू से आधुनिक इतिहास में पीजी की डिग्री पूरी की।

you can read this:-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *